साध्वी प्रज्ञा , स्वामी असीमानंद की बलि के इन्तजार में पूरा हिंदू समाज.

दिल्ली रामलीला मैदान ,गंगा पुत्र निगमानंद कि बलि के बाद , साध्वी प्रज्ञा , स्वामी असीमानंद की बलि के इन्तजार में पूरा हिंदू समाज.

सीबीआई की विशेष अदालत ने अजमेर बम धमाके के आरोपी स्वामी असीमानंद और अन्य आरोपियों की न्यायिक हिरासत की अवधि 24 जून तक बढा दी है.

अजमेर बम धमाके के आरोपी स्वामी असीमानंद, मुकेश वासानी, भरत भाई, लोकेन्द्र गुप्ता, लोकेश, हषर्न्द्र सौंलकी की न्यायिक हिरासत की अवधि शुक्रवार को समाप्त होने पर उन्हें यहां अदालत में पेश किया गया था.

दरगाह बम धमाके की जांच कर रही एनआईए ने अदालत से आरोपियों की न्यायिक हिरासत की अवधि बढाने का अनुरोध किया था जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया.

कहाँ हैं हिंदू समाज ! उनके बरे बरे नेता , जिन्होंने सरकार को खुले आम मनमानी पर छोर दिया है .

साध्वी प्रज्ञा

इंदौर। मालेगांव बम विस्फोट मामले में जेल में बंद साध्वी प्रज्ञा सिंह ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक के प्रचारक रहे सुनील जोशी की हत्या कराने में कांग्रेस महासचिव और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की संलिप्ता का आज आरोप लगाया।

सुनील जोशी हत्याकांड की कथित आरोपी प्रज्ञा सिंह को कल देवास की एक अदालत में पेश किया गया था। न्यायालय ने प्रज्ञा सिंह का स्वास्थ अत्यधिक खराब होने पर उन्हें अस्पताल ले जाने के आदेश दिए थे। उपचार के बाद स्वस्थ घोषित किए जाने के बाद आज सुबह मुबंई के लिए रवाना होने से पहले पत्रकारों से सवाल के जवाब में प्रज्ञा सिंह ने सिंह पर यह आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सिंह ने ही सुनील जोशी की हत्या कराई है।

साध्वी प्रज्ञा ने कहा, जोशी हत्याकांड में दिग्विजय शामिल


उन्होंने प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी)सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए यह कहा कि महाराजा यशवंतराव अस्पताल के डॉक्टरों ने उनकी सही जांच नहीं करके उन्हें पूरी तरह से स्वस्थ घोषित कर दिया है।

प्रज्ञा सिंह ने अपने उपर लगे आरोपो को सिरे से नकारते हुए कहा कि वह एक साध्वी है और हत्या जैसा कृत्य नहीं कर सकती हैं। वह देश के लिए जीना मरना चाहती हैं। उन्होंने राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए पर पूरा विश्वास जताया है।


मुंबई॥ मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती मालेगांव बम धमाकों में गिरफ्तार एवं महाराष्ट्र की जेल में बंद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर से मिलेंगी।

बीजेपी के कार्यालय प्रभारी सुरेंद्र ने बताया कि उमा भारती ने अपने वकील के माध्यम से जेल में बंद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से मिलने की अनुमति चाही है।

उन्होंने बताया कि उमा भारती ने अपने वकील सुधाकर द्विवेदी के माध्यम से साध्वी प्रज्ञा के वकील बाल देसाई से अनुरोध किया है कि वे साध्वी प्रज्ञा से मुलाकात का समय देने के लिए कानूनी प्रक्रिया शीघ्र पूरी करें।


जय भारत,

गर्व से ! कहो हम हिंदू हैं


2 comments:

आशुतोष की कलम said...

साध्वी [प्रज्ञा ठाकुर तुम हिन्दू हो तुम्हे मरना ही होगा..
तुम अफजल के खानदान से नहीं हो की इटली की सरकार तुम्हे खीर परोसेगी न ही तुम चर्च जाती हो ..इस लिए तुम्हे मरना ही होगा
तुमने हिजड़ी होती कौम की आवाज उठाई है जिसमें सेकुलर कुत्ते पलते हैं इसलिए तुम्हे मरना होगा..
साध्वी तुम हिन्दुस्थान की हिन्दू हो इसलिए तुम्हे मरना होगा

I and god said...

प्रिय भाई आशुतोष जी ,

क्या कोई रास्ता नहीं है इस हिजरी कौम में पुरुषार्थ भरने का .

गीता में तो कृषण आ गए थे :
क्लैब्यं मा स्म गमः पार्थ
क्लैब्यं का अर्थ नपुंसकता है .

मेरा विश्वास है कृषण जरुर आयेंगे , क्योकि उन्होंने वादा किया है :

यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति ॥४-७॥

जब जब धर्म का लोप होता है, और अधर्म बढता है, तब तब मैं
सवयंम सवयं की रचना करता हूँ॥

आप क्या कहेते हैं.

पर मैंने सुना है , गोवेर्धन तो कृष्ण ही उठाएँगे, पर ब्लॉग नाम की लठिया तो हमें लगानी ही परेगी .
आपका दासानुदास
अशोक
दिल्ली