बाबा रामदेव का भ्रस्ताचार के विरुद्ध संग्राम , क्या सफल हो पायेगा ?


Baba Ramdev starting Maha Sangram against Black Money and Corruption -- GET READY

प्रिय भरासियो ,

मुझे अमेरिका से एक महान एक्टिविस्ट इंडियन अमेरिकेन फोरम ऑफ इंटेलेक्चुअल से यह मेसेज मिला.

अमेरिका बैठे लोग भी हम्मरे बारे में कितने चिंतित हैं.

On Tue, Apr 26, 2011 at 7:03 AM, <Katariaxxxxx@aol.com> wrote:

Baba Ramdev starting Maha Sangram against Black Money and Corruption -- GET READY

पर मैं उन्हें यह जबाब लिख पाया.

thanks kataria jee,

my good wishes with all the activists.


there is no doubt about the planning, and intentions of baba ramdev, hazare or subramaniam swami or others.

but do not you realise that the masses of leaders and beaurocrats are having an immoral, anti religious training in their life, from childhood.

they just can not differentiate between good money and bad money. no nationalism, no morals, no conscience. they are like mad animals, harming nation, by all means, and they have power and planning to do that.

and we wish to change them by some bill, law , or punishments.

we have to start, them teaching national feeling from the childhood, and scan and remove every curropt officer in one go.

till then it would be a dreadful dream .

i am sorry to write this.

thanks and regards

ashok gupta

क्या आप कोई सुझाव मुझे या उन्हें देना चाहेंगे ?

2 comments:

आशुतोष said...

हमारे पास विकल्पों की कमी है,,हम शोर तो मचा रहें है मगर बिना विकल्प के..क्या हमने कोई विकल्प चुना है मनमोहन और सोनिया का..सिर्फ गाली देते है उनको और उनके आचरण को...वो भी जान गए हैं की कुछ होने वाला नहीं है..कलमाड़ी को इतने दिन बाद गिरफ्तार किया जाता है जब वो सरे सबूत नष्ट करके अपनी मर्जी से जाता है...इस पर हम खुस है की चलो कलमाड़ी और रजा गिरफ्तार..
हमें पहले विकल्प तैयार करना होगा..अन्ना एक विकल्प हो सकते हैं मगर उम्र के कारण स्वाभाविक परेशानिया हैं..ये लड़ाई लम्बी चलनी है शायद रामदेव कोई विकल्प प्रस्तुत करें..मगर हमे खुले दिल से स्वीकार करना होगा ऐसे लोगों को

आशुतोष की कलम से....: मैकाले की प्रासंगिकता और भारत की वर्तमान शिक्षा एवं समाज व्यवस्था में मैकाले प्रभाव :

अगर आप पूर्वांचल से जुड़े है तो आयें, <a href="http://poorvanchalbloggerassociation.blogspot.com/>पूर्वांचल ब्लोगर्स असोसिएसन</a> पर ..आप का सहयोग संबल होगा पूर्वांचल के विकास में..

I and god said...

धन्यवाद आशुतोष जी

आपने आधार पर चोट की है

हिंदू इन्तेल्लिजेंसिया कहाँ सोया हुआ है, अभी तो हम क्रिकेट और टीवी शोज में खोये हैं.

भ्रस्ताचार हमारी प्राथमिकता में पहले दस में भी नहीं है.

कृपया अपने कमेंट्स से हमें लाभ देते रहें .

अशोक गुप्ता
दिल्ली