जमुना साफ़ है : कृपया उसे गन्दा न करो , उसमें गंदे नाले न डालो

    

जमुना जी  कि सफाई की बार बार बातें होती हैं.

मैं दिल्ली में रहता हूं , अभी आज ही जमुना जी पर से जाने का अवसर मिला .

निचे देखा , धवल जमुना जी बह रही हैं.

ये तो एक बारिश में ही साफ़ हो गयी ,  फिर आप जमुना जी की सफाई के लिए ५०० करोड़ , १००० करोड़ कैसे खर्च होंगे.

अरे मेरे भाई , मेरी इंडिया देट इज भारत की महान सरकार ! केवल इसमें कारखानों के गंदे रसायन न डालो , फिर ये तो साफ़ ही हैं .

कार्खानओ से रिश्वत लेकर गंदे नाले इसमें न डालो .  नालों के कैमिकल को साफ़ कर के इसमें डालो , और हम हिंदुओं की आस्था को बचा रहेने दो , प्लीज .

          

बोलो यमुना महारानी की जय 

2 comments:

जाट देवता (संदीप पवाँर) said...

हर साल बारिश में खुद साफ़ हो जाती है, फ़िर भी पैसा खाने के चक्कर में नेता बहाने बनाते रहते है,

I and god said...

संदीप भाई ,

बात तो आप अक्ल की करते हैं फिर नाम जाट क्यों रखा है.

{माफ करना केवल दोस्ताना मजाक है)